नाम बदलने पर राजनीति हुई तेज, अब एनएसयूआई ने पत्रकारों की मांग का किया समर्थन..

रायपुर– प्रदेश के एकमात्र पत्रकारिता विश्वविद्यालय कुशाभाऊ ठाकरे के नाम बदलने की मांग का समर्थन कांग्रेस के छात्र संगठन एनएसयूआई ने किया है। एनएसयूआई के प्रदेश सचिव हनी सिंग बग्गा ने कहा कि

“बीजेपी ने अपने पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष और संघ के प्रचारक कुशाभाऊ ठाकरे के नाम पर यूनिवर्सिटी का नामकरण कर अपने राजनीतिक स्वार्थ की पूर्ति की है। छत्तीसगढ़ के प्रथम पत्रकार पंडित माधवराव सप्रे ने सामाजिक वैचारिक क्रांति के अलख को जगाए रखा। उनके नाम पर यूनिवर्सिटी का नाम रखा जाए।”

इससे पहले पत्रकारो के एक संगठन ने उच्च शिक्षा मंत्री से मुलाकात कर कुशाभाऊ ठाकरे यूनिवर्सिटी का नाम बदलने की मांग किया था, जिसके बाद से राजनीति शुरू हो गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *