एफआईआर के डेढ़ महीने बाद भी आरोपी की नहीं हुई गिरफ्तारी, पुलिस की कार्यप्रणाली पर उठे सवाल!

रायपुर– सिविल लाइन थाना में एफआईआर दर्ज होने के डेढ़ महीने बाद भी आरोपी की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है। 15अगस्त को स्वंतत्रता दिवस के कार्यक्रम से कवरेज कर वापस लौटते पत्रकार राहुल गोस्वामी को शंकर नगर चौक में बाइक सवार ने पीछे से ठोकर मार दिया था।

जिससे पत्रकार के बाएं पैर की हड्डी टूट गई, कंधे और हाथ में चोट आया था। घटना के बाद पत्रकार ने 22 अगस्त को सिविल लाइन थाने में बाइक सवार युवक के खिलाफ नंबर और पता सहित सिविल लाइन थाना में रिपोर्ट लिखाया था। रिपोर्ट के डेढ़ महीने बाद भी पुलिस युवक को पकड़ नहीं सकी है।

जांच अधिकारी बदले पर नहीं हुई गिरफ्तारी- पत्रकार की शिकायत पर पुलिस ने आईपीसी 279,337 के अन्तर्गत अपराध पंजीबद्ध किया। सब इंस्पेक्टर श्रवण मिश्रा को जांच अधिकारी बनाया था पर तबादले के बाद एस आई संतोष साहू को जांच का जिम्मा दिया गया है। डेढ़ महीने में टीआई और सब इंस्पेक्टर दोनों बदले पर आरोपी की गिरफ्तारी नहीं पाई। महीने बाद भी आरोपी की गिरफ्तारी नहीं होना पुलिस की कार्यवाही में संदेह को जन्म देता है। सिविल लाइन टीआई सुशांतो बनर्जी ने कहा कि

इस मामले की जानकारी नहीं है। अपराध नंबर बता दे तो पता करता हूं।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *